डीडीएमए बैठक में मौजूद उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि एक साल से अधिक समय से स्कूल बंद होने के कारण छात्रों का बड़ा नुकसान हो रहा है इसीलिए अब स्कूलों को फिर से खोलने का समय आ गया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार की पैरेंटस टीचर मीटिंग (पीटीएम) में हिस्सा लेने वाले आठ लाख अभिभावकों में से 90 फीसद चाहते हैं कि फिर से स्कूल खोले जाएं। उन्होंने कहा कि स्कूल फिर से खोलने के मामले में अभिभावकों और शिक्षकों से सुझाव मांगे गये थे। 33,000 लोगों ने ईमेल आईडी के माध्यम से उनके आफिस में अपने सुझाव भेजे। इन सुझावों में पाया गया कि 58 फीसद लोग शैक्षणिक संस्थानों को फिर से खोलना चाहते हैं। 68 फीसद लोग चाहते हैं कि स्कूल फिर से खुल जाएं वहीं 83 फीसद लोग चाहते हैं कि कालेज फिर से खोले जाएं।